---Third party advertisement---

CBI कांगड़ा में खंगाल रही पटवारी भर्ती के दस्तावेज, चार दिन से डाला है डेरा



पिछले साल नवंबर माह को हुई पटवारी भर्ती में कथित धांधली को लेकर सीबीआई ने चार दिन से कांगड़ा जिले में डेरा डाला है। पिछले चार दिन में जिले के शाहपुर, ज्वालामुखी और धर्मशाला में सीबीआई टीम ने छानबीन की है। जानकारी के अनुसार सीबीआई राजस्व विभाग के पटवारी भर्ती के दस्तावेजों की जांच कर रही है। अब सीबीआई ने धीरा के निजी स्कूल में पटवारी भर्ती के दौरान देरी से पेपर बांटने और ओएमआर फाड़ने के मामले की छानबीन करेगी। CBI is investigating patwari recruitment documents in Kangra
सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने राजस्व विभाग से भी रिकार्ड तलब किया है। इसके साथ ही उच्च न्यायालय से मिले आदेशों और दस्तावेजों का गहनता से अवलोकन किया जा रहा है। सीबीआई जांच की जद में सूबे के 11 जिलों के उपायुक्त कार्यालय आएंगे, क्योंकि पटवारी भर्ती की प्रक्रिया जिला उपायुक्त कार्यालय के माध्यम से ही करवाई जा रही थी। बता दें कि प्रदेश के करीब तीन लाख युवाओं ने पटवारी भर्ती के लिए आवेदन किया था। इसके तहत करीब 1194 पद भरे जाने हैं। परीक्षा के दौरान प्रदेश भर से आईं शिकायतों के बाद इसकी प्रक्रिया को लेकर ही सवाल खड़े हो गए थे।




100 में 43 प्रश्न पहले हुई टेट परीक्षा से पूछे

पटवारी भर्ती की लिखित परीक्षा में अभ्यर्थियों ने पूछे प्रश्नों को लेकर भी सवाल उठाए थे। निदेशक लैंड रिकार्ड के दायर शपथपत्र से पता चला था कि 100 में से 43 प्रश्न पहले हुए टेट (टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट) से पूछे गए थे। इस पर हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान आशंका जताई थी कि परीक्षा कुछ अधिकारियों ने अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए ली। इसे देखते हुए उच्च न्यायालय ने मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए थे।
loading...

Post a Comment

0 Comments