---Third party advertisement---

Kangra: माता ब्रजेश्वरी पर चढ़ने वाले घी का चमत्कार, गुड़गांव के युवक का गले का कैंसर हुआ ठीक


बदलते युग में भी अगर भगवान पर विश्वास किया जाए तो आप बड़ी से बीमारी को हरा सकते हैं। इसका ही उदाहरण गुड़गांव से माता ब्रजेश्वरी मंदिर में आए माता ब्रजेश्वरी देवी पर चड़ने वाले घी को गले में लगाने के बाद गुड़गांव का युवक कैंसर जैसी भयंकर बीमारी को पराजित करने मे सफल रहा। 

गुड़गांव के युवक सोहन सना के परिवार वाले आज अपने गुरु के साथ माता ब्रजेश्वरी में माथा टेकने पहुचें तो उन्होंने बताया कि मंदिर के पुजारी पंडित राम प्रसाद शर्मा ने उन्हें बताया कि वे युवक को माता की पिंडी से उतरे घी का लेप लगाए ओर माता का ध्यान करे।जिसके बाद उन्होंने यह करना शुरू किया। अपोलो जैसे बड़े अस्पताल में चौथे चरण में पहुंच चुकी बीमारी से लड़ रहा युवक जिसे डाक्टरों ने जवाब दे दिया था आज बिल्कुल ठीक है।

गौरतलब रहे कि शक्तिपीठ श्री बज्रेश्वरी देवी मंदिर में सात दिवसीय घृत मंडल पर्व 14 फरवरी को शुरू हुआ था। इस सात दिवसीय घृत मंडल पर्व में करीब 2 क्विंटल मक्खन से मां की पिंडी का श्रृंगार किया गया था और इस धार्मिक आयोजन को देखने के लिए देशभर से श्रद्धालु कांगड़ा पहुंचे थे। मान्यता है कि इस मक्खन रूपी प्रसाद से चर्म रोगों और कैंसर जैसी बीमारी से निदान मिलता है। 

घृत मंडल पर्व के संबंध में कहा जाता है कि जालंधर दैत्य को मारते समय मां बज्रेश्वरी देवी के शरीर पर कई चोटें आई थीं तथा देवताओं ने माता के शरीर पर घृत का लेप किया था। इसी परंपरा के अनुसार देसी घी को एक सौ एक बार शीतल जल से धोकर उसका मक्खन बनाकर मां की पिंडी पर चढ़ाया जाता है। साथ ही मेवों और फलों की मालाएं भी चढ़ाई जाती हैं। मंगलवार देर रात तक मां की पिंडी पर मक्खन लगाने का कार्य जारी रहा। News Source: PunjabKesari
हिमाचल की ताज़ा ख़बरों के लिए अभी लाइक करें हमारा फेसबुक पेज
loading...

Post a comment

2 Comments