हमीरपुर में टांकामार कंडक्टरों का नया पैंतरा. Whatsapp group बनाकर एक-दूसरे को दे रहे फ्लाइंग दस्ते की जानकारी


एचआरटीसी निगम की बसों में टांकामार कंडक्टरों पर नकेल कसने के लिए विभाग ने कमर कस ली है और इसी के तहत योजनाबद्व तरीके से ऐसे कंडक्टरों पर पैनी नजर रखी जा रही है। बता दें कि हाईटेक तरीके से हमीरपुर में टांकामार कंडक्टर काम कर रहे है और व्हाट्सप्प ग्रुप बनाकर एक दूसरे से जानकारियों का आदान प्रदान करके टांका मार कर पैसे जुटा रहे है। जिसे दिन दहाड़े निगम को हजारों रूपयों का चूना लग रहा है।

टांकामार कंडक्टरों को पकड़े के लिए आरएम हमीरपुर ने चेताया है कि अगर ऐसा करते हुए कंडक्टर पकड़े जाते है कानून सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जानकारी के अनुसार कई जगहों पर एचआरटीसी डिपो के कंडक्टर व्हाट्सऐप ग्रुप बनाकर एक-दूसरे को फ्लाइंग की लोकेशन को लेकर अपडेट देते रहते हैं। इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ जब हमीरपुर निगम प्रबंधन ने ऐसे दो ग्रुप पकड़े। हिमाचलसे.कॉम इन ग्रुपों में दिनभर मैसेज चलते रहते हैं और बताया जाता है कि फ्लाइंग की मूवमेंट आज किस तरफ हुई है और कौन सा रूट क्लीयर है।पिछले कुछ समय से फ्लाइंग स्क्वायड के हाथ एक भी ऐसा मामला नहीं आ रहा था, जिसमें कोई कंडक्टर टांका लगाते हुए पाया गया हो।

कुछ समय के लिए तो निगम को लगा कि शायद पिछले मामलों से सबक लेते हुए कंडक्टर सचेत हो गए हैं और ईमानदारी से अपना काम कर रहे हैं, लेकिन निगम के हाथ दो ऐसे व्हाट्सऐप ग्रुप लगे हैं, जो कंडक्टरों ने बना रखे थे। इससे वे एक-दूसरे को अपने रूट के बारे में अपडेट दे रहे थे। आरएम हमीरपुर विवेक लखनपाल का कहना है कि टांका मारने के लिए कंडक्टर व्हाटसप्प गु्रप के माध्यम से काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि कुछ व्हाटसप गु्रप विभाग की नजर में है जिनको लेकर छानबीन की जा रही है। उन्होंने चेताया कि अगर कोई कंडक्टर टांका मारते हुए पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...