Una: तेल छिड़क कर लगाई आग में झुलसी महिला ने टांडा में दम तोड़ा


करीब सवा माह पूर्व पुलिस थाना अम्ब के तहत एक गांव में आग से झुलसी महिला ने देर रात टांडा मैडीकल कालेज में दम तोड़ दिया है। सूचना मिलने पर पुलिस थाना अम्ब से थाना प्रभारी अम्ब गौरव भारद्वाज की अगुवाई में अस्पताल पहुंची पुलिस टीम ने कार्रवाई के तहत पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को वारिसों के सुपुर्द कर दिया है। गौरतलब है कि गत माह पुलिस थाना अम्ब में आईपीसी की धारा 498ए, 326, 307 व 34 सहित विभिन्न धाराओं के अंतर्गत दर्ज हुए मामले के तहत आग से झुलसी महिला ने बयान देते हुए आरोप लगाया था कि उस पर सास, जेठानी व मामा की लड़की ने तेल छिड़क कर आग लगाई है। पीड़िता (34) ने आरोप लगाया था कि औलाद न होने के चलते उक्त महिलाओं ने उस पर तेल छिड़क कर आग लगा दी। उसने बताया था कि उसकी शादी फरवरी, 2017 में हुई थी। करीब एक माह तक ससुराल में सब ठीक रहा लेकिन बाद में उसे बच्चे के लिए परेशान करना शुरू कर दिया। उसने कई जगह ट्रीटमैंट के तहत दवाई भी खाई। उसने आरोप लगाया था कि उसकी सास व जेठानी उसे पड़ोस में भी बात नहीं करने देती थीं, जबकि पति ने उसे कभी तंग नहीं किया।

पति ने दरवाजा खोलकर पानी से आग को बुझाया
23 नवम्बर को जब वह कमरे में थी तो उक्त तीनों बातें करती आईं और कमरे में उस पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। कुछ समय के बाद फैक्टरी से घर आए उसके पति ने दरवाजा खोलकर पानी से आग को बुझाया और उसके कपड़े बदल कर उसे अस्पताल पहुंचाया। उधर, पुलिस जांच अधिकारी का कहना है कि इस संगीन मामले में तह तक जाने के लिए पुलिस गहनता से जांच पड़ताल कर चुकी है और इस मामले में पुलिस ने पड़ोसियों तथा उसके पति सहित अन्य पारिवारिक सदस्यों के बयान कलमबद्ध कर जांच प्रक्रिया में शामिल किए हैं। डीएसपी अम्ब मनोज जम्वाल का कहना है कि इस मामले में टांडा मैडीकल कालेज में उपचाराधीन महिला ने देर रात दम तोड़ दिया है। पुलिस ने सोमवार सुबह पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव वारिसों के सुपुर्द कर दिया है। उक्त की गई जांच के मद्देनजर पुलिस में दर्ज मामले में अब आईपीसी की धारा 306 भी जुड़ गई है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...