---Third party advertisement---

स्कूल वर्दी का रंग फीका पड़ने पर कंपनी को नोटिस, विभाग ने एक सप्ताह के भीतर मांगा जवाब

notice-to-the-company-on-the-color-fading-of-the-school-uniform
स्कूल वर्दी का रंग फीका पड़ने के मामले में खाद्य आपूर्ति निगम ने कंपनी को नोटिस जारी कर दिया है। एक सप्ताह के भीतर कंपनी से जवाब मांगा गया है। इसके अलावा जहां वर्दी का रंग फीका हुआ है, वहां नई वर्दी देने की बात कही गई है। इसके अलावा निगम ने शिक्षा निदेशालय से भी पूछा है कि कहां कहां ऐसी वर्दी सप्लाई हुई है और कहां-कहां से शिकायतें प्राप्त हुई है? इसकी रिपोर्ट देने को कहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी स्कूल वर्दी का रंग फीका पड़ने के मामले में कड़ा संज्ञान लिया है। उन्होंने इस मामले में उचित कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

अमर उजाला ने 23 नवंबर के अंक में स्मार्ट स्कूल वर्दी का उतरने लगा रंग सीएम हेल्पलाइन में शिकायत शीर्षक से खबर प्रकाशित कर वर्दी का रंग उतरने का मामला उठाया था। कांगड़ा और मंडी जिले से मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में इसको लेकर दर्ज शिकायतों में आरोप है कि एक-दो बार धोने पर पैंट और कमीज के रंग फीके पड़ गए। वर्दी पर रोंए भी आ गए हैं। बता दें कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 8.30 लाख विद्यार्थियों को अटल स्कूल वर्दी योजना के तहत पहली बार स्मार्ट वर्दी दी गई है। साल 2018-19 के लिए 57.90 करोड़ रुपये से स्मार्ट वर्दी की खरीद की गई है।

पहली से जमा दो कक्षा के विद्यार्थियों को दो-दो सेट दिए हैं। लड़कियों को लाल, काले और सफेद रंग की चेकदार वर्दी और लड़कों की ग्रीन रंग की पैंट और ग्रीन रंग की चेक शर्ट दी गई है। जुलाई से प्रदेश में वर्दी आवंटन शुरू हुआ। अक्तूबर तक सभी स्कूलों में वर्दी मुहैया करवा दी गई है। खाद्य आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष बलदेव तोमर ने कहा कि कंपनी को नोटिस जारी कर दिया है। कई जगह सप्लाई रोकी है। छात्रों को अच्छी क्वालिटी की वर्दी दिए जाने के लिए यह संज्ञान लिया है। News Source: Amar Ujala
loading...

Post a Comment

0 Comments