---Third party advertisement---

अब सरकारी कर्मचारी बस में बैठकर दफ्तर आएंगे, कार से नहीं


सरकारी कर्मचारी अब अपनी कारों से नहीं बल्कि बसों में बैठकर दफ्तर पहुंचेंगे। ट्रैफिक जाम और पार्किंग समस्या से जूझ रहे शहरों में समस्या को सुलझाने के लिए सरकार ने यह पहल की है। राजधानी शिमला में इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज (आईजीएमसी) अस्पताल और सचिवालय के लिए बस सेवा शुरू कर दी है। अब जिला मुख्यालयों से आवेदन मांगे गए हैं।

पहले चरण में 50 विशेष बसें चलाने की तैयारी है।परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने बताया कि प्रदेश सचिवालय और आईजीएमसी शिमला में यह सेवाएं दी जा रही हैं। शहरों को जाम से निजात दिलाने और कर्मचारियों को राहत देने के लिए यह फैसला लिया गया है। सरकार की इस पहल से कर्मचारियों का डीजल-पेट्रोल का खर्च बचेगा तो परिवहन निगम की आय भी बढ़ेगी। परिवहन निगम के बेड़े में दर्जनों बसें खड़ी हैं। इन बसों का कर्मचारियों की सुविधा के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि यह सुविधा शहरी क्षेत्रों में ही मिलेगी, जहां ट्रैफिक जाम की समस्या रहती है। शहरी क्षेत्रों में ये बसें दो से तीन स्टेशनों से चलाई जानी हैं।
loading...

Post a Comment

0 Comments