एक फोन कॉल और आप हो जायेंगे कंगाल, इस खबर को पढ़ ले कहीं अगला नंबर आपका ना हो


फोन की घंटी बजते ही लोग जैसे ही कॉल रिसीव करने के बाद बातचीत के उपरांत कॉल को डिस्कनैक्ट कर रहे हैं, तब तक वे कंगाल हो रहे हैं। कम पढ़े-लिखे लोग ही नहीं, बल्कि पढ़े-लिखे लोग भी ऐसी घटनाओं के शिकार हो रहे हैं। ऑनलाइन ठगी के बढ़ते मामले पुलिस के लिए भी मुश्किलें पैदा कर रहे हैं। ऐसे मामलों में पुलिस और साइबर क्राइम से जुड़ी टीमों को प्रदेश से बाहर निकलकर शातिरों को दबोचना पड़ रहा है, ऐसे शातिरों का पूरा जाल एक से दूसरे और दूसरे से तीसरे राज्य से होते हुए पूरे देश में फैला हुआ है।

ऐसे शातिर लोगों को फोन करके कह रहे हैं कि आपका खाता बंद हो गया है या आपका ए.टी.एम. कार्ड खराब हो गया है। इस पर कॉल रिसीव करने वाले भोले-भाले लोग हड़बड़ाहट में शातिरों के झांसे में आ रहे हैं।हिमाचलसे.कॉम  इसके उपरांत ऑनलाइन ठगी का खेल शुरू करते हुए शातिर उन लोगों से बैंक खाते से संबंधित जानकारी से लेकर ओ.टी.पी. के संदर्भ में पूछ रहे हैं। ऐसी बढ़ती घटनाओं पर बुद्धिजीवी शिकंजा कसने की मांग कर रहे हैं।

आगे जुड़ते जा रहे तार

पुलिस विभाग ने ऐसे मामलों में करीब एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है। पिछले लगभग 3 सप्ताह के भीतर ही पुलिस द्वारा झारखंड से एक-एक करके 3 लोगों को गिरफ्तार करके कुल्लू लाया गया है। एक-दूसरे से तार जुडऩे के कारण बारी-बारी से ये गिरफ्तारियां हुई हैं। अभी इसके तार पश्चिम बंगाल से भी जुड़ रहे हैं।

गांव-गांव जाकर लोगों को करें जागरूक

कुल्लू के बुद्धिजीवियों शाम चंद ठाकुर, गोपाल शर्मा, विश्वदेव शर्मा, मुकुंद लाल शर्मा व कुबेर सिंह जम्वाल कहते हैं कि लोगों को जागरूक करने के लिए गांव स्तर तक अभियान चलना चाहिए। ऐसी फोन कॉल्स के झांसे में बार-बार ज्यादातर ग्रामीण इलाकों के लोग ही आ रहे हैं। ऐसी टीमों का गठन किया जाए जो ग्रामीण इलाकों में जाकर भी लोगों को जागरूक करें। बड़े पैमाने पर अभियान चलाकर लोगों को ऐसे शातिरों से बचाया जा सकता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...